छुट्टी के लिए प्रधानाचार्य को आवेदन पत्र [संक्षिप्त व सरल भाषा मे]

दोस्तों, स्टूडेंट को कभी न कभी विद्यालय से छुट्टी लेने की जरुरत तो पड़ती है इसलिए आप हम इस पोस्ट में chutti ke liye prathna patra लिखना सीखेगे क्योंकि छात्रों को अपने प्रधानाचार्य से छुट्टी कभी न कभी तो विद्यालय से माँगनी तो पड़ती है।

chutti ke liye prathna patra chutti ke liye avedan patra
Chhutti ke liye prathna patra


प्रधानाचार्य के पास छुट्टी के लिए आवेदन लिखे। Chhutti ke liye pradhnachay ke pas avedan patra


सेवा में,
प्रधानाचार्य/ प्रधानाचार्या
High School, Garikalan
विषय- छुट्टी के संबंध में।
महोदय/महोदया,

                        आपसे मेरा सविनय निवेदन है कि मै हेमंत कुमार वर्ग पाँचवी का छात्र हूँ, पत्र लिखने का खास कारण यह है कि मुझे कल से हल्का बुखार है और मैं विद्यालय आने में असमर्थ हूँ अतः श्रीमान् से मेरा निवेदन है कि मेरी दो दिनों की अनुपस्थिति को माफ करने की कृपा करे।
आपके इस महान कार्य हेतु मै सदा आपका आभारी बना रहूँगा।

आपका आज्ञाकारी छात्र/छात्रा
हेमंत कुमार
वर्ग पाँचवी


नोट- Underline किए गए वाक्यों के स्थान पर अपनी जानकारी भरें

आशा है कि आप को यह पोस्ट पसंद आया होगा और आपको पता चल गया होगा कि छुट्टी के लिए आवेदन पत्र कैसे लिखते है।
इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका धन्यवाद
यदि आपको इस पोस्ट से किसी भी प्रकार की समस्या हो तो कमेंट जरूर करें।

Post a Comment

Please Post Positive Comments & Advice

Previous Post Next Post
Please Share & Comment