प्रत्यय किसे कहते है? परिभाषा, भेद, उदाहरण सहित।

प्रत्यय व्याकरण का एक ऐसा भाग है जिसका उपयोग सभी हिन्दी बात करने वाले लोग करते है परन्तु जानते बहुत कम लोग हैं। हम इस पोस्ट में pratyay kise kehte hain और प्रत्यय कितने भेद है?

प्रत्यय किसे कहते हैं?

वे शब्द जो किसी मूल शब्द के अंत में जुड़कर उस मूल शब्द का अर्थ बदल देते हैं वे प्रत्यय कहलाते हैं।

प्रत्यय के उदाहरण-
थक+आवट=थकावट
खेल+औना= खिलौना

Read Also- उपसर्ग किसे कहते हैं?

प्रत्यय के दो भेद होते हैं (Pratyay Ke bhed) 

  1. कृत प्रत्यय 
  2. तद्धित प्रत्यय

कृत प्रत्यय

ऐसे प्रत्यय जो किसी क्रिया के धातु के अंत में लगकर संज्ञा या विशेषण शब्दों का निर्माण करते हैं कृत प्रत्यय कहलाते हैं इनके प्रयोग से जो नए शब्द बनते हैं कि कृदंत कहलाते हैं।

कृत के पाँच भेद है-

  1. कर्तृ वाचक कृत प्रत्यय
  2. कर्म वाचक कृत प्रत्यय
  3. करण वाचक कृत प्रत्यय
  4. भाव वाचक कृत प्रत्यय
  5. विशेषण वाचक कृत प्रत्यय

कर्तृवाचक कृत प्रत्यय के उदाहरण

प्रत्यय धातु शब्द
आलू झगड़ा झगड़ालू
आक तैर तैराक
हार हो होनहार
अक लिख लेखक
अक गै गायक

कर्मवाचक कृत प्रत्यय के उदाहरण-

प्रत्यय धातु शब्द
नी जन,चाट जननी, चटनी 
औना खेल, बिछ खिलौना,बिछौना
ना खा,गा खाना,गाना

कर्मवाचक कृत प्रत्यय के उदाहरण-

प्रत्यय धातु शब्द
भूल, भटक भुला, भटका 
बेल,झाड़ बेलन, झाड़न
नी  कतर,चट कतरनी,चटनी 
     

भाव वाचक कृत प्रत्यय के उदाहरण-

प्रत्यय धातु शब्द
आवा चल,बुला चलवा,बुलावा
आहट झुंझलाना,कड़वा झुंझलाहट,कड़वाहट
लिख,पढ़ लिखा,पढ़ा 
     

विशेषण वाचक कृत प्रत्यय के उदाहरण-

प्रत्यय धातु शब्द
आलु दया,कृपा दयालु,कृपालु
वाला पढ़,लिख पढ़नेवाला,लिखनेवाला
अनिय पठ,पूज पठनीय,पूजनीय 

तद्वित प्रत्यय- 

ऐसे प्रत्यय जो संज्ञा सर्वनाम और विशेषण शब्दों के अंत में लगकर नए शब्द बनाते हैं तद्धित प्रत्यय कहलाते हैं।

तद्वित प्रत्यय के भी 6 भेद होते हैं-

  1. भाव वाचक तद्वित प्रत्यय
  2. कर्तृ वाचक तद्वित प्रत्यय
  3. संबंध वाचक तद्वित प्रत्यय
  4. लघुता वाचक तद्वित प्रत्यय
  5. विशेषण वाचक तद्वित प्रत्यय
  6. स्थान सूचक तद्वित प्रत्यय

भाव वाचक तद्वित प्रत्यय के उदाहरण-

प्रत्यय धातु शब्द
इया खाट,लाठी खटिया,लठिया
आई बुरा,भला बुराई,भलाई
ता मम,लघु ममता,लघुता 

कर्तृ वाचक तद्वित प्रत्यय के उदाहरण-

प्रत्यय धातु शब्द
वाला चाय,दूध चायवाला,दूधवाला
कार पत्र,कहानी पत्रकार,कहानीकार
आरी पूजा,भीख पुजारी,भिखारी 

संबंध वाचक तद्वित प्रत्यय के उदाहरण-

प्रत्यय धातु शब्द
आल ससुर ससुराल
एरा चाचा,मामा चचेरा,ममेरा
हाल नाना ननिहाल 

लघुता वाचक तद्वित प्रत्यय के उदाहरण-

प्रत्यय धातु शब्द
पहाड़,घंटा पहाड़ी, घंटी
री छटा,बांस छतरी,बांसुरी
इया लोटा,खाट लुटिया,खाट 

विशेषण वाचक तद्वित प्रत्यय के उदाहरण-

प्रत्यय धातु शब्द
इक धर्म,समाज धार्मिक,सामाजिक
वान बल,गुण बलवान,गुणवान
ईय देश,जाति देशीय, जातीय 

स्थान सूचक तद्वित प्रत्यय के उदाहरण-

प्रत्यय धातु शब्द
गुजरात, गुजराती,
इया कलकत्ता कलकतिया

महत्वपूर्ण तथ्य

1. प्रत्यय के प्रकार कितने है?

कृत प्रत्यय , तद्धित प्रत्यय

2. तद्धित प्रत्यय किसे कहते हैं?

ऐसे प्रत्यय जो संज्ञा सर्वनाम और विशेषण शब्दों के अंत में लगकर नए शब्द बनाते हैं, तद्धित प्रत्यय कहलाते हैं।

3. कृत प्रत्यय किसे कहते हैं?

ऐसे प्रत्यय जो किसी क्रिया के धातु के अंत में लगकर संज्ञा या विशेषण शब्दों का निर्माण करते हैं, कृत प्रत्यय कहलाते हैं।


आशा है की आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा और आपको अच्छी तरह से समझ आ गया होगा। आप इस पोस्ट को जरूर शेयर करे।
Chandradeep Kumar

मेरा नाम चन्द्रदीप कुमार है। मैं एक हिन्दी लेखक और www.fastduniya.com का founder हूँ।

Please Post Positive Comments & Advice

Post a Comment (0)
Previous Post Next Post