अपचयन अभिक्रिया और उपचयन अभिक्रिया क्या है? Apchayan Abhikriya Aur Upchayan Me Antar

इस लेख में अपचयन अभिक्रिया और उपचयन अभिक्रिया के बारे में बताया गया है तथा इनमें क्या अन्तर है।

उपचयन अभिक्रिया- 

जब किसी अभिक्रिया के समय जब किसी पदार्थ में ऑक्सीजन की वृद्धि होती है या हैड्रोजन का ह्रास होता है तो उस अभिक्रिया को उपचयन या ऑक्सीकरण कहते हैं उदाहरण- 

अपचयन अभिक्रिया- 

जब किसी अभिक्रिया में किसी पदार्थ में ऑक्सीजन का हरास या हाइड्रोजन का योग होता है उसे अपचयन या अवकरण अभिक्रिया कहते हैं।

Post a Comment

Please Post Positive Comments & Advice

Previous Post Next Post