अपचयन अभिक्रिया और उपचयन अभिक्रिया क्या है? (सरल और आसान भाषा में)

इस लेख में अपचयन अभिक्रिया और उपचयन अभिक्रिया के बारे में तथा इनमें क्या अन्तर बताया गया है। आशा है आपको यह पोस्ट पसंद आएगा

उपचयन अभिक्रिया क्या है?

किसी अभिक्रिया के समय जब किसी पदार्थ में ऑक्सीजन की वृद्धि होती है या हैड्रोजन का ह्रास होता है तो उस अभिक्रिया को उपचयन या ऑक्सीकरण अभिक्रिया कहते हैं।
उदाहरण- 2Ca+O2 → 2CaO


अपचयन अभिक्रिया किसे कहते हैं?

जब किसी अभिक्रिया में किसी पदार्थ में ऑक्सीजन का हरास या हाइड्रोजन का योग होता है उसे अपचयन या अवकरण अभिक्रिया कहते हैं।
उदाहरण- CUO+H2 → CU+H2O

Post a Comment

Please Post Positive Comments & Advice

Previous Post Next Post
Please Share & Comment