जनन किसे कहते हैं? Janan Kise Kahte Hai

हर जीव जन्म लेता है, और मरता है इसलिए जीव को जन्म देने के लिए जनन की आवश्यकता है। इस पोस्ट के माध्यम से आपको जनन की परिभाषा,  जीव जनन क्यों करते है, जनन के प्रकार कितने है, आदि बताने का प्रयास किया है।

जनन की परिभाषा (Janan kya hai)

प्रत्येक प्राणी अपनी जाति को बढ़ाने के लिए जनन करता है, चाहे वह मनुष्य हो, या पेड़ पौधे हो या फिर पशु पक्षी, सभी के जनन करने की तरीके अलग-अलग हैं मनुष्य बच्चों को जन्म देते हैं, तो पक्षी अंडे और पेड़-पौधे के बीज होते हैं तथा और भी अनेक प्रकार से जीव अपने अपने तरीकों से जनन करते है।

READ ALSO- 

जीवों जनन क्यों करते हैं?

जीव जनन अपनी जाति को बढ़ाने के लिए करते है ताकि उनकी प्रजाति की पीढ़ी चलती रहे और जीवों की मृत्यु के बाद उस जीव की प्रजाति नष्ट न हो। प्रत्येक जीव अपनी तरह के जीव की ही जनन करते है।

जनन मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं

  1. लैंगिक जनन 
  2. अलैंगिक जनन
यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी हो यह हमारी आशा है। लैंगिक जनन और अलैंगिक जनन के बारे में जानने के लिए link पर क्लिक करें। 

Post a Comment

Please Post Positive Comments & Advice

Previous Post Next Post

Translate

Please Share & Comment